सोमवार, सितम्बर 28, 2020
होम ब्लॉग

शिक्षक दिवस के अवसर पर सरकार की नीतियों के खिलाफ थाली बजाएं

0

दोस्तों जिस हिसाब से पूरे देश में बेरोजगारी बढ़ रही है और देश में सरकार की नीतियों का आलोचना हो रही है , उसी क्रम में शिक्षक दिवस के अवसर पर सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया जाना है ।

हम क्यों करे प्रदर्शन ?

दोस्तों इन दिनों आपको देश की स्थिति का तो अंदाजा लग ही गया होगा । हमारा GDP = -23% हो गई है । लेकिन सरकार की नौकरी कि प्रक्रिया में जरूरत से ज्यादा लेट हो रही है । दो सालों कि नियुक्ति की प्रक्रिया अभी तक थप है ।

आज करोड़ों युवा बेरोजगारी से लड़ रहे हैं , जिसके कारण देश की स्थिति खराब होती जा रही है । लेकिन मीडिया हमारे मुद्दे को नहीं उठाते है ।

ऐसे में लोकतंत्र को बचाना होगा और अपने हक के लिए सरकार से प्रश्न करने होंगे ।

कब करना है प्रदर्शन ?

शिक्षक दिवस के अवसर पर सरकार की नीतियों के खिलाफ थाली बजाकर अपने वीडियो को ट्विटर , फेसबुक और सभी सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया प्रदर्शित करे ।

दिनांक : 5-Sep-2020

समय : 05:00 pm

शिक्षकों का योगदान

बताना चाहूंगा दोस्तों इस बार कोई भी शिक्षक , शिक्षक दिवस के अवसर पर ये नहीं चाहते है कि आपके सोशल मीडिया के स्टेटस में शिक्षकों का फोटो लगाए लेकिन ये जरूर चाहते है कि आप इस मुहिम में अपनी भूमिका निभाए और इस बार अपने प्रदर्शन की वीडियो को स्टेटस में लगाए ।

आज सभी शिक्षक आप से गुरु दक्षिणा मांग रहे है ।

बताना चाहूंगा कि यह मुहिम पटना के मशहूर शिक्षक , खान सर के परामर्श पर पूरे देश में चलाया जाएगा ।

Happy Teachers Day

शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

#speakupforsscrailwaystudents

#speakup

#bycottmedia

#बेरोजगार युवा

#नौकरी दो

लोकतंत्र को बचाना होगा

मोदी के खिलाफ छात्र क्यों भड़क गए है ? जानिए पूर्ण विश्लेषण सबूत के साथ

0

दोस्तों आज हम इस लेख में कुछ ऐसे सबूत लाए है जिसे देखने के बाद चौंक जाएंगे, कृप्याकर अंत तक बने रहिए

आखिर हुआ क्या है ?

दोस्तों इन दिनों मोदी जी की मन की बात की वीडियो 30 अगस्त 2020 को You Tube पर BJP के चैनल और मोदी जी के चैनल पर अपलोड किया गया लेकिन इस वीडियो पर बहुत तीव्र गति से डिसलाइक बढ़ रहे है और सभी सोशल मीडिया पर मोदी जी विरूद्ध प्रदर्शन हो रहा है ।

आपको बताना चाहूंगा की मोदी जी के वीडियो पर लाइक करने वालों की संख्या से लगभग पांच गुना ज्यादा डिसलाइक करने वाली की संख्या हो गई है । सबूत आपके सामने है ।

छात्रों और शिक्षकों का कहना है कि मोदी जी अपनी मन की बात में हमारे रोजगार कि बात नहीं करते है । इसलिए हमलोग Dislike mann ki baat .

इन दिनों Twitter, Facebook, WhatsApp सहित सभी सोशल मीडिया पर कुछ #Hachtags वायरल हो रहे है । जैसे की – #speakupforsscrailwaystudents , #bycottbjp , #bycottmodi , #bycottsscchairman , #mannkibat , #gobjp , #puchhtahaibharat , #bycottmedia , #bycottaajtak , #september1st , #deslikemannkibat , #ntpcexamdate etc.

कौन कौन इस मुहिम में साथ है ?

दोस्तों बताना चाहूंगा कि इस मुहिम में विशेषकर छात्र और शिक्षक अपनी भूमिका निभा रहे है । देश के सभी छोटे बड़े You Tube चैनल पर मोदी जी के खिलाफ मुहिम चला रहे है ।

दोस्तों छात्रों और शिक्षकों का कहना है कि मोदी सरकार प्रति वर्ष दो करोड़ रोजगार देने का वादा किए थे लेकिन मोदी जी दो साल पीछे की परीक्षा का अभी तक ज्वाइनिंग नहीं हुआ है और साथ ही रोजगार देने के वादे भी पूरे नहीं कर रहे है ।

मीडिया कितना सच दिखाती है ?

दोस्तों सभी छात्र या शिक्षक पागल नहीं है जो पढ़ाई या पढ़ाना छोड़कर इस मुहिम को चला रहे है । इन सभी लोगों का कहना है कि लोकतंत्र में इस समय बहुत बड़ी चुनौती आ गई है क्योंकि मीडिया सच नहीं दिखा रही , हमारे रोजगार पर कोई बातचीत नहीं कर रहे है ।

World Press Freedom Index की रिपोर्ट के अनुसार भारत पिछले तीन साल से भारत की स्थिति लगातार गिरावट आ रही है । खुद देख लीजिए सबूत

दोस्तों World Press Freedom Index में किसी देश की स्थिति में गिरावट का संकेत होता है कि आप अपने यहां मीडिया को सच्चाई दिखाने से वंचित कर रहे है । एक भी रिपोर्ट झूठी नहीं है आप इंटरनेट के माध्यम से चेक कर सकते है ।

शायद आपको पता होगा कि भारत की GDP में 2018 के बाद लगातार गिरावट आई है । सबूत देखिए

दोस्तों आपको जानकर बहुत हैरानी होगी की अभी भारत कि GDP गिरकर -22.8% हो गई है । सबूत देखिए

दोस्तों इन सभी रिपोर्ट के आधार पर अपने देश की स्थिति को समझ सकते है ।

BJP के प्रवक्ता का क्या कहना है ?

दोस्तों अगर पूछा जाएं की इस समय BJP के तरफ से क्या बोला का रहा है तो आपको बता दे की BJP के प्रवक्ता का कहना है कि ये सब कांग्रेस की साज़िश है , ऐसा BJP का आरोप है ।

इस वीडियो को देखिए

इस मुहिम के तहत BJP सरकार के लिए प्रचलित सवाल

इस समय सभी सोशल मीडिया पर कुछ प्रश्न ट्रेंड कर रहे है ?

RRB ntpc exam date कब आएगा ?

SSC cgl का ज्वाइनिंग कब होगी ?

मन की बात कब तक ? रोजगार वाली बाते कब ?

आपका कर्तव्य क्या है ?

दोस्तों अगर ऐसे हालात को समझे तो ये समय लोकतंत्र के लिए बहुत शर्म की बात है कि जो काम मीडिया को करना चाहिए वो काम अब छात्र और शिक्षक You Tube के माध्यम से कर रहे है ।

ऐसे हालात में ये समझना बहुत जरूरी है कि क्या ये मुहिम सही है या गलत ?

इस चीज का फैसला आपको करना है और अगर आपको ये मुहिम लोकतंत्र के लिए सही लग रहा है तो आप भी साथ दीजिए , क्योंकि ये आपका संवैधानिक अधिकार है ।

इस समाचार के लिंक को अपने दोस्तों तक शेयर करे और सभी को जागरूक करे ।

How to earn from email marketing ??

0

What is email marketing ?

You should consider email marketing as a modern way of communicating with consumers.
Emails, as a form of communication, have been around for decades, ever since the first sent
email message back in 1971. Over the years, the World Wide Web has evolved and grown, and
email marketing has found its rightful place in the business world. Although email messages
were once a popular way of communicating with friends, online messaging apps such as
WhatsApp, Viber, etc. have taken over this role. Despite this fact, emails are still important and
a large percent of people do check their email inbox daily.

This gives a high potential to reach online consumers. Email marketing should be a personalized
approach, where your goal is to directly communicate with the online users in order to achieve
something, such as generate a sale, get visitors, encourage downloads, etc. Even though an
email marketing campaign is, in essence, a promotional campaign, you should go beyond this
concept and use a more subtle approach to both reach and engage online users.

Email marketing statistics

• A single person is sending and receiving over 200 emails a day on average. (Radicati)
• In 2015, the number of worldwide email users was nearly 2.6 billion. By the end of
2019, the number of worldwide email users will increase to over 2.9 billion.
(Radicati)
• The total number of worldwide email accounts is expected to increase to over 4.3
billion accounts by year-end 2016. (Radicati)
• 35% of email recipients open email based on the subject line alone.
(Convince&Convert)
• The mobile market share is around 55% (Litmus, 2016). Additionally, 75% of Gmail
users open their emails on mobile devices. (Techcrunch, 2015)
• 30% of subscribers change email addresses annually. (Convince&Convert)
• 44% of email recipients made at least one purchase last year based on a promotional
email. (Convince&Convert)
• Email marketing technology is used by 82% of B2B and B2C companies.(Ascend2)
• 74% of marketers say targeted personalization increases customer engagement.
(eConsultancy)
• Segmented and targeted emails generate 58% of all revenue. (DMA)
• Email is 40 times more effective at acquiring new customers than Facebook or
Twitter. (Campaign Monitor)
• For every $1 spent, email marketing generates $38 in ROI.(Campaign Monitor)
• 83% of B2B marketers use email newsletters for content marketing. (Content
Marketing Institute)

Email marketing as a part of online marketing

Email marketing on its own has a little chance of succeeding. The true potential of this
marketing is seen when it is integrated into the overall online marketing strategy. For example,
you have a new blog article (content marketing) and you want to share it with lots of online
users to get more traffic to your blog (SEO). You send out a newsletter (email marketing) where
you feature a summary of the article, inviting your subscribers to visit your blog to read the full
article. This way you combine all your efforts to get the most out of it and to have the best
chances for achieving your goals.

How to start Email Marketing ?

Once you know the basics, it is time to start with email marketing. In essence, this is a method
for achieving goals, a strategy which utilizes your own resources (a mailing list) to boost your
online performance.

Set up goals

Like with any other campaign, if you want to reach success, you have to know what that success
is. Goals you want to achieve will dictate the campaign settings, writing style, target audience,
etc. They will also dictate the way you measure success. This is why the first step is setting up
goals. Sometimes you might have multiple goals. Either way, start by determining some of
them. Here are a couple of examples to get some ideas:

• I want to drive new signups for the service
• I need new leads

• I want to invite people to an event
• I would like to encourage people to donate
• I want to sell my product

These goals are a bit too general and vague. In order to measure success, you should try to
make them measurable. For example, avoid “I want to drive new signups for the service”, but
add a measurement “I want to drive 100 new signups for the service”. Or, instead of “I want to
sell my product” try “I want to increase sales by 20%”.
Having measurable goals will help you determine if what you have achieved through the
campaign is really in accordance with what you had planned. Not only will this determine
whether your campaign was a success or not, it will also help you realize what you need to
change to upgrade your performance.

Determine the pace of sending

Now it is time to think about sending emails. One of the first things you will need to establish is
the pace. The schedule of sending is important to keep you organized, but it also makes users
feel more comfortable, as they know when to expect an email from you.
You should also analyze the performance of the email campaigns in the past, to determine if
there was any particular day or period of the day that showed unusual rates, regardless if that
was the surprisingly high or low open rate.
There are also studies that have been analyzing the performance of email marketing
campaigns, in order to find out what would be the best time to send an email. Multiple types of
research have come to the conclusion that Tuesday is the best day for sending emails, while
morning, 10 am, in particular, was highlighted as the best time. (Source)

बिनोद कौन है ? जानकर बेहोश हो जाओगे

0

आजकल सभी सोशल मीडिया पर #Binod छा गया है । यहां तक कि बहुत सारे डिजिटल मार्केटर को #Binod से करोड़ों रुपए का मुनाफा हुआ है ।

आखिर क्यों हो रही है binod memes viral ? आखिर क्या है binod meaning ? Binod kon hai ?

आज हमलोग इस लेख में binod meaning के विषय पर चर्चा करेंगे ।

#Binod कहां से पैदा हुआ ?

दरअसल #Binod की शुरुआत You Tube के एक चैनल Slay Point से हुई । मामला ये है कि इस You Tube Channel ने 15 July 2020 को एक वीडियो पोस्ट किया जिसके मालिक अभ्युदय और गौतमी ने भारतीयों के कमेंट्स को देखने की बात की और उस पोस्ट करने वाले वीडियो का नाम दिया Why Indian Comments Section is Garbage(Binod) ? भाई इसका मतलब यह हुआ कि क्यों Indian Comments कचरे के बराबर है ?

फिर क्या था हमारे देश में नमूनों कि कमी है क्या ? हमारे कुछ होसियारो ने कमेन्ट करना शुरू किया और उधर अभ्युदय और गौतमी ने सभी कमेंट्स को देखना शुरू किया ।

उसमे से एक कमेन्ट में Binod आया और देखते ही देखते पूरा Comments , Binod से भर गया और कुछ ही समय ये वीडियो वायरल होने लगा और ये You Tube पर Top Trending होने लगा ।

Binod कौन है ?

🤔🤔🤔🤔🤔🤔🤔🤔🤔

दरअसल जिसने You Tube Channel , Slay Point के वीडियो पोस्ट “Why Indian Comments Section is Garbage(Binod) ?” के कमेन्ट में एक यूजर ने Binod लिखा था उस यूजर का नाम 🙏बिनोद थारू🙏

#Binod क्यों ट्रेंड कर गया ?

वहीं एक शख्स ने Paytm को अपने ट्विटर अकाउंट का नाम बदलकर Binod करने का चैलेंज दे दिया. बस फिर क्या था, Paytm ने भी शख्स का चैलेंज एक्सेप्ट कर लिया और

  • PayTM ने ट्विटर पर अपना नाम बदलकर बिनोद कर लिया ।
  • मुंबई पुलिस ने बिनोद नाम के सभी लोगों से अनुरोध किया कि अगर वे अपना पहला नाम रखते हैं तो अपना ऑनलाइन पासवर्ड बदल दें ।
  • एयरटेल ने कहा कि “हां बीनोद बोल” के साथ हर कॉल प्राप्त होगा ।
  • फ्रांसीसी हैकर इलियट एल्डर्सन ने अपने फॉलोअर्स को खुद को बिनोद कहलाने को कहा है ।

भाई फिर क्या था हमारे भारत में बस इतना ही काफी है किसी trending में लाने के लिए और देखते ही देखते ये #Binod आसमान छूने लगा ।

🙏 अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो प्लीज़ अपने दोस्तो को जरूर शेयर करे 🙏

What to do after 10th ??

0

10th class result या 10th result जारी हो जाने के बाद सभी छात्र छत्राओं के मन में एक सवाल होता है कि What to do after 10th ??

After 10th class हमलोग जिंदगी के एक बहुत बड़े इम्तिहान को पार कर लेते है । इसके आगे की पढ़ाई हेतु हमलोग इंटरनेट पर सर्च करने लगते है कि After 10th courses list , कुछ छात्र तो ये भी search करते है कि After 10th courses list for boy , आज हमलोग इस लेख में 10th के बाद क्या करना चाहिए ? इसपर पूरी जानकारी हासिल करेंगे ।

Intermediate

Intermediate kise khte hain ? / Intermediate kise kehte hai ? / Intermediate kise kehte hain ? / What is intermediate ?/ Intermediate kya hai ? / Intermediate kya h ?

दसवीं के बाद intermediate कोर्स का सीधा मतलब 11th & 12th होता है । Intermediate course आप दो सालों में पूरा कर सकते है । इस कोर्स को आप तीन संकाय से पूरा कर सकते है :-

Arts

  • आर्टस से intermediate करने को I.A कहा जाता है अर्थात Intermediate of arts |
  • इस संकाय के माध्यम से आप अपने अंदर के छिपे कला को प्रदर्शित कर सकते है तथा उस कला के आप महारथी बन सकते है ।
  • इसमें निम्नलिखित विषय आते है :-
    • भाषा विषय
      • मैथिली
      • हिंदी
      • अंग्रेजी
      • ऊर्दू
      • भोजपुरी
      • संस्कृत
    • भूगोल
    • संगीत
    • अर्थशास्त्र
    • मनोविज्ञान
    • गृहविज्ञान
    • इतिहास
    • राजनीति शास्त्र
    • नृत्य

Science

इस संकाय के माध्यम से आप doctor, engineer बन सकते है । इसके अलावा और भी बहुत कुछ जैसे कृषि अधिकरी ।

इसमें निम्नलिखित विषय आते हैं :

  • गणित
  • जीवविज्ञान
  • भौतिकी
  • राशायनशात्र
  • कृषि

Commerce

इस संकाय के माध्यम से आप Accountant बन सकते है साथ है बैंकिंग क्षेत्र में ज्ञान हासिल कर सकते है ।

इसमें निम्नलिखित विषय आते हैं :

  • Account
  • Economics
  • Language Paper

Diploma Courses

दसवीं के बाद आप डिप्लोमा भी कर सकते है जिसके अंतर्गत निम्नलिखित कोर्स आते है :

  • Diploma in Engineering
    • Electrical
    • Mechanical
    • Computer Science
    • Agriculture
    • Civil
    • Automobile
    • Electronics
    • Electrical & electronics
    • Electronics & communication
  • Diploma in computer application
  • Diploma in fashion designing
  • Diploma in web designing
  • Diploma in graphics
  • Diploma in photography
  • Diploma in jewellery designing

इस कोर्स अवधि अधिकतम तीन वर्ष होती है ।

ITI Courses

इस कोर्स की अवधि अधिकतम दो साल की होती है । इसमें निम्नलिखित क्षेत्र आते हैं :

  • Electrician
  • Welder
  • Carpenter
  • Wireman
  • Fitter
  • Computer
  • Plumber
  • Turner
  • Draughtsman

Paramedical Courses

  • DOT
  • DOA
  • DLMT
  • DHFM
  • Health Inspector

Short term courses

  • PGDC
  • Internet
  • Cyber security
  • Tally
  • Animation

Affiliate Marketing Full Course

0

Affiliate Marketing Meaning

Do you want to do affiliate marketing ?? Then your decesion is very wanderful .

Affiliate marketing business is a type of business by which you generate active and passive income. In this article we cover all the information related to affiliate marketing.

Affiliate marketing is a type of performance-based marketing. This means that the efficiency evaluation and reward systems are based on the performance, which can be evaluated at specific intervals, or it can have a particular goal that needs to be achieved.

There are two roles in affiliate marketing which are crucial for this entire system to work. First, there are merchants, who decide to create an affiliate program. They provide an offer for others to promote their business and earn their commission. On the other side, there are affiliates, who are also known as publishers. They are the ones that are interested in joining an affiliate program. The main reason for merchants to create an affiliate program in the first place is the potential to increase sales and boost profit with no direct promotional campaign, except for enabling affiliates to join the program. Since the entire concept of affiliate marketing is performance-based, there is no investment or pre-payment required by the merchants. Affiliates are also motivated by profit to join an affiliate program. Once they enter the program, they are able to promote the merchant’s products in any form they can, in order to increase sales. Their performance is tracked using trackable links and they are paid based on that performance, i.e., based on the conversions they achieve.

नई शिक्षा नीति : 2020

0

नई शिक्षा नीति 2020

नई शिक्षा नीति क्या है ?

इस लेख में हम भारत की नई शिक्षा नीति के बारे में पूरी जानकरी प्राप्त करेंगे ।

Email id Full information

0

Email Address Matlab ?

Email address means ?

Email address kya hai ?

Email Banana hai ?

In this article we cover all the information related to above questions .

  • The Full form of email is Electronic Mail .
  • Email is a method to exchange the information between two or more people or organisation .
  • It provides a unique virtual address , called email address.
  • It provides a password called as email password.

History of Email

  • It was found by Ray Tomlinson in 1971.

Symbol of Email

@

How to create email account ?

  • Go to accounts.google.com.
  • Choose the use of web version
  • Go to add account.
  • Go to create email .
  • Fill the information and set the password .
  • Select a unique address.
  • Finally got a unique email id.

Features of email id

  • You can change the email password.
  • Email Backup.
  • Email writing
  • You have a email address password
  • Email and Gmail both are same.
  • It is provided by Google.